Love Shayari For Gf | Love Shayari 2 Line | Love Shayari Hindi Status


Love Shayari For Gf

Love Shayari image
Love Shayari image


Aapake judaee bhee hamen pyaar karatee hain … 

Aapake yaad bahut bekaraar karatee hain .. 

Jaate jaate kaheen bhee mulaakaat ho jaaye aap se … 

Talash aapako ye nazar baar baar karatee hain …

आपकी जुदाई भी हमें प्यार करती हैं … 

आपकी याद बहुत बेकरार करती हैं ..

जाते जाते कहीं भी मुलाकात हो जाये आप से … 

तलाश आपको ये नज़र बार बार करती हैं …


Bahut Khoob Soorat Hai Aakhai Tumhare Inhen Bana Do Kismat Hamare Hame Nahin Chahiye Zamaane Ki Khushiyaan Agar Mil Jaaye Mohabbat Tumhare

बहुत खूब सूरत है आखै तुम्हारी इन्हें बना दो किस्मत हमारी हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी

“Aapakon Pyaar Karane Se Dar Lagata Hai Aapakon Khone Se Dar Lagata Hai Kaheen Aakhon Se Gum Na Ho Jaaye Yaad Ab Raat Mein Sone Se Dar Lagata Hai”

“आपकों प्‍यार करने से डर लगता है आपकों खोने से डर लगता है कहीं आखों से गुम ना हो जाये याद अब रात में सोने से डर लगता है”

“Deevaane Hai Tere Naam Ke Is Baat Se Inkaar Nahin Kaise Kahe Ki Tumase P‍yaar Nahin Kuchh To Kasoor Hai Aapakee Aakhon Ka Ham Akele To Gunahagaar Nahin ”

“दीवाने है तेरे नाम के इस बात से इंकार नहीं कैसे कहे कि तुमसे प्‍यार नहीं कुछ तो कसूर है आपकी आखों का हम अकेले तो गुनहगार नहीं ”

“Bin Dekhe Teree Tas‍veer Bana Sakate Hain Bin Mile Tera Haal Bana Sakate Hai Hamaare P‍yaar Mein Itana Dam Hai KI Tere Aasoon Apanee Okh Se Gir Sakate Hain ”

“बिन देखे तेरी तस्‍वीर बना सकते हैं बिन मिले तेरा हाल बना सकते है हमारे प्‍यार में इतना दम है की तेरे आसूं अपनी ऑख से गिर सकते हैं ”


Love Shayari Hindi Status


वो आपका पलके झुका के मुस्कुराना; वो आपका नजरें झुका के शर्मना; वैसे आपको पता है या नहीं हमें पता नहीं; पर इस दिल को मिल गया है उसका नज़राना।



आँखों को जब किसी की चाहत हो जाती है उसे देख के ही दिल को राहत हो जाती है कैसे भूल सकता है कोई किसी को ‘ऐ’ दोस्त जब किसी को किसी की आदत हो जाती है मोहोब्बत कुछ इस कदर हो जाती है उसे के रब से पहले उसकी इबादत हो जाती है



दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू,

मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है तू,

चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़ कर,

मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू।


यकीन नहीं तुझे अगर तो आज़मा के देख ले,

एक बार तू जरा मुस्कुरा के देख ले,

जो ना सोचा होगा तूने वो मिलेगा तुझको भी,

एक बार अपने कदम बढ़ा के देख ले।


हजारों चेहरों में एक तुम ही पर मर मिटे हैं वरना,

ना चाहतों की कमी थी और ना चाहने वालों की।


तुम मिल गए तो मुझ से नाराज है खुदा,

कहता है कि तू अब कुछ माँगता नहीं है।


मेरी तकदीर संवर जाये उजालों की तरह,

आप मुझे चाह लें अगर चाहने वालों की तरह।


वो मुझ तक आने की राह चाहता है,

लेकिन मेरी मोहब्बत का गवाह चाहता है,

खुद आते जाते मौसमो की तरह है,

और मेरे इश्क़ की इंतेहा चाहता है।


दिवाना हर शख़्स को बना देता है इश्क़,

सैर जन्नत की करा देता है इश्क़,

मरीज हो अगर दिल के तो कर लो इश्क़,

क्योंकि धड़कना दिलों को सिखा देता है इश्क़।


तपिश से बच के घटाओं में बैठ जाते हैं;

गए हुए कि सदाओं में बैठ जाते हैं;

हम इर्द-गिर्द के मौसम से घबरायें;

तेरे ख्यालों की छाओं में बैठ जाते हैं।


तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे;

खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे;

अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो;

तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।


यूँ तो तमन्नाएं दिल में ना थी हमें लेकिन;

ना जाने तुझे देखकर क्यों आशिक़ बन बैठे;

बंदगी तो खुदा की भी करते थे लेकिन;

ना जाने क्यों हम काफ़िर बन बैठे।


देख मेरी आँखों में ख्वाब किसके हैं;

दिल में मेरे सुलगते तूफ़ान किसके हैं;

नहीं गुज़रा कोई आज तक इस रास्ते से हो कर;

फिर ये क़दमों के निशान किसके हैं।


फिर से वो सपना सजाने चला हूँ;

उमीदों के सहारे दिल लगाने चला हूँ;

पता है कि अंजाम बुरा ही होगा मेरा;

फिर भी किसी को अपना बनाने चला हूँ।


ना दिल से होता है, ना दिमाग से होता है;

ये प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है;

पर प्यार करके प्यार ही मिले;

ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी-किसी के साथ होता है।


चाहत के ये कैसे अफ़साने हुए;

खुद नज़रों में अपनी बेगाने हुए;

अब दुनिया की नहीं कोई परवाह हमें;

इश्क़ में तेरे इस कदर दीवाने हुए।



उसके चेहरे पर इस क़दर नूर था;

कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था;

बेवफा भी नहीं कह सकते उसको ज़ालिम;

प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।

*

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post

Billboard Ad